बेंच प्रेस चेस्ट बनाने के लिए सबसे ज्यादा की जाने वाली एक्सरसाइज है | आम तौर पर लोग यही समझते है की चेस्ट बिल्डिंग का सबसे कारगर उपाय बेंच प्रेस ही है ,लेकिन ऐसा नही है | निम्नलिखित कई ऐसे मिथक है जिनके बारें में इस लेख के द्वारा आपको जानकारी मिल जाएगी |

बेंच प्रेस बेस्ट चेस्ट बिल्डर एक्सरसाइज है - हर कोई केवल बेंच प्रेस को करके ही बड़ी छाती नही बना सकता | चेस्ट वर्कआउट के दौरान माइंड और मसल का कनेक्शन बहुत जरुरी है ,लेकिन कई लोगो का ये नही हो पाता है | वे ज्यादा भार उठाने की कोशिश करते है लेकिन, इस चक्कर में ट्राइसेप्स और दूसरी मसलस पर अधिक भार पड़ता है और चेस्ट का पूरा विकास नही हो पाता है | इसलिए ये कह सकते है बेंच प्रेस एक अच्छी एक्सरसाइज है लेकिन बेस्ट चेस्टएक्सरसाइज नही है | हर कोई बेंच प्रेस कर सकता है -प्रत्येक व्यक्ति बेंच प्रेस सुरक्षित तरीके से नही कर सकता है इसलिए दूसरी एक्सरसाइज को चुनना ज्यादा अच्छा चुनाव है | अगर आप पावर लिफ्टर हैं और बेंच प्रेस आपके शरीर पर सही काम नही कर रही तो कई और एक्सरसाइज हैं जिन्हें आप चुन सकते हैं जैसे की पुश अप्स, डबल बेंच प्रेस, डिप्स |

बेंच प्रेस अपर चेस्ट पर काम नही करती -एक और मिथक है की बेंच प्रेस अप्पर चेस्ट पर काम नही करती बल्कि सत्य तो यह है की बेंच पेस पूरी चेस्ट पर काम करती है जिसमे ट्राइसेप्स,कंधे सब शामिल होता है | किसी एक मसल पार्ट पर विशेष रूप से काम करना संभव नही , इसके विपरीत बेंच प्रेस छाती पर पूर्ण रूप से कार्य करता है|

बैंचिंग शोल्डर, बैक, एल्बो के लिए हांनिकारक है –इनमे से कुछ भी सत्य नही है उचित तरीके से की गयी बेंच प्रेस हर जॉइंट के लिए सेफ है

बेंच प्रेस से पोस्चर भी खराब होता है - ऐसा केवल तभी होता है जब आप बहुत ज्यादा बेंच प्रेस करते है और वो भी संतुलित शरीर (बैलेंस्ड बॉडी ) बनाने के बारें में नही सोचते |