बारिश के मौसम से हर किसी को अच्छा लगता है क्योंकि मानसून की बौछारों का मजा ही अलग होता है, इस मौसम में चाय-पकौड़े खाना, भीगना और घूमना हर किसी को पसंद होता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि मानसून विभिन्न बीमारियों, संक्रमण, मौसमी सर्दी और फ्लू का भी मौसम है और मानसून में बेपरवाही के कारण बीमारियां भी जल्द घर बनाने लगती है | इसलिए बारिश में रखिये खास ख्याल और न करे ये गलतियां :-

कम पानी पीना

अक्सर लोग इस गीले मौसम में पानी बहुत कम पीते हैं लेकिन मानसून में पानी से बचने से आप डिहाइड्रेट हो सकते हैं और डिहाइड्रेशन अनियमित ब्लड प्रेशर स्तर, शरीर में एनर्जी और ब्लड सर्कुलेशन का कारण बन सकता है। इसलिए बारिश के मौसम में भी पानी खूब पिए |

न खाएं हरी सब्जियां

पत्तेदार सब्जियों को मानसून में खाने से बचना चाहिये। क्योंकि मानसून के दौरान हरी पत्तेदार सब्जियों में कीड़े अपना घर बना लेते हैं। पत्तागोभी, फूलगोभी और ब्रॉकली जैसी हरी सब्जियों में कीडे़-मकौडे़ इस तरह अंदर तक घुसे रहते हैं कि दिखाई भी नहीं देते। इसलिए अगर आप इन सब्जियों को खाना भी है तो पकाने से पहले नमक वाले गर्म पानी में डाल कर इन्हें उबाल लें और फिर पकाएं।

एक्‍सरसाइज न करना

खराब मौसम के कारण अक्सर लोग एक्सरसाइज करने के लिए बाहर नहीं निकलते यानी बारिश में लोग एक्सरसाइज से बचने लगते हैं। लेकिन एक्सरसाइज न करना अच्छी बात नहीं हैं क्योंकि यह शरीर को स्वस्थ और सक्रिय रखने में मदद करती है। बारिश के मौसम में बहुत अधिक भारी व्यायाम जैसे दौडऩा, साइकिलिंग आदि न करें। इसके कारण पित्त बढ़ता है। योग, वॉकिंग, स्विमिंग और स्ट्रेचिंग आदि एक्सरसाइज अच्छी रहती हैं।

स्ट्रीट फूड ना खाएं

इसमें कोई संदेह नहीं की बारिश में समोसा, पकौड़े, चाट जैसी चीजें बहुत पसंद आती है, लेकिन इस मौसम के दौरान स्ट्रीट फूड से पूरी तरह से बचना चाहिए। स्ट्रीट फूड में कीटाणु पैदा होने की आशंका बहुत बढ़ जाती है।

मानसून में बनायें इम्‍यून सिस्‍टम को मजबूत

बारिश की बूंदों से गर्मी से तो राहत मिलती है, परन्तु मानसून कई परेशानियां भी साथ लेकर आता है। गर्मी में दूषित पानी की वजह से जहां डायरिया और पेट संबंधी अन्य गड़बड़ियां होती हैं। साथ ही बरसात में भरता पानी, घरों में पहुंचने वाला दूषित पानी और मच्छरों का तेजी से बढ़ना सेहत से जुड़ी नई परेशानियां खड़ी कर देता है। त्वचा संबंधी कई रोग भी इस मौसम में परेशान करते हैं। इन सब परेशानियों से बचने के लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता यानी इम्यून सिस्टम का मजबूत होना जरूरी है। इसके लिए अपनाये ये उपाय - भोजन के साथ सलाद का उपयोग अधिक से अधिक करें। सलाद का सेवन पाचन क्रिया को दुरुस्त बनाये रखने में मदद करता है। ककड़ी, टमाटर, मूली, गाजर, प्याज, चुकंदर आदि को भोजन में शामिल करे |

इम्यूनिटी को मजबूत बनाने और हेल्दी रहने के लिए सादे पानी की बजाय तुलसी के पत्ते को उबालकर पिएं। तुलसी के पत्तों में एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो आपके इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाता है।पानी और हर्बल चाय का सेवन इम्यून सिस्टम और चयापचय प्रक्रिया को सपोर्ट करता है। इससे शरीर में नमी आ जाती है। मानसून के दौरान अपनी इम्यूनिटी को मजबूत बनाने के लिए सब्जियों का सूप जरूर पीना चाहिए।